ग्वालियर के जयारोग्य अस्पताल के कोविड सेंटर में शनिवार को दोपहर में आग लग गई। आग लगने के बाद हॉस्पिटल के डॉक्टरों और स्टाफ की बहादुरी से यहां भर्ती 9 कोरोना मरीजों की जान बचा ली गई है।दोपहर को करीब 2 बजे आग लगने की सूचना जैसे ही महिला डॉक्टर को मिली, सूचना पाते ही तुरंत महिला डॉक्टर वार्ड में पहुंचीं। उस समय PPE किट पहनने का वक्त नहीं था तो बिना किट पहने ही रेस्क्यू में जुट गईं। साथ-साथ दूसरे डॉक्टरों और स्टाफ को भी बुला लिया। आग में 9 मरीजों में से 2 मामूली तौर पर झुलस गये है। सभी मरीजों को दूसरी जगह शिफ्ट करने के बाद आग पर काबू पा लिया गया। इस आग मे एक वेंटिलेटर भी जल गया है।

अस्पताल की चौथी मंजिल पर ICU में लगी थी आग- अस्पताल की चौथी मंजिल ICU में शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लग गई थी,आग का पता चलते ही सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल की नोडल अफसर नीलिमा टंडन और नीलिमा सिंह तुरंत चौथी मंजिल पर पहुंची,और PPE किट पहनने का वक्त नहीं था तो फिर मरीजों की जान बचाने के लिए दोनों डॉक्टरों ने बाकी स्टाफ और डॉक्टरों को बुलाया और फिर खुद ही बिना किट पहने ही मरीजों की जान बचाने में जुट गईं। इसी तेजी के चलते सभी मरीजों की जान बचा ली गई।

नोट- yugexpress को नीचे दिये गये बैल आइकन दबा कर सब्सक्राइब करें,जिससे हमारी खबरें सबसे पहले आप तक पहुँचे…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here